IBPS Full Form | Meaning | Definition in Hindi

IBPS का English में full form "Institute of Banking Personnel Selection" होता है और आई.बी.पी.एस का (hindi meaning) अथवा मतलब "बैंकिंग कार्मिक चयन संस्थान" होता है. IBPS एक platform है जो Indian Public Sector Banks की और से written exams, interviews और recruitment की सभी formalities का संचालन (conduct) करता है. IBPS वर्ष 1984 से ही completely independent human body के रूप में काम कर रही है.

Job के लिए Banking Sector ही क्यों

जैसा की आप जानते हैं आज भारतीय अर्थव्यवस्था (Indian economy) बहुत कठिन दौर से गुजर रही है और यही कारण है की भारत का Private sector आवश्यकता के अनुसार job नहीं दे पा रहा है. इसमें लगातार नई job की कमी हो रही है. Private sector में Job Security और uncertain working hours की भी बड़ी समस्याएं है. इन सबको देखकर लोग आज सरकारी नौकरी की तरफ अधिक आकर्षित हो रहे हैं.
शायद आपको मालूम होगा आज India Banking Sector बहुत ही विशाल है. वर्ष 1969 और 1980 में बैंकों के nationalization के बाद से अब तक 5-6 साल की अवधि के दौरान retirements की संख्या अधिकतम है और इसलिए बैंकों को इन vacancies को जल्दी से जल्दी भरना होता है.
जब से India में RBI (Reserve Bank of India) ने अपनी नई guidelines दी है जिसमे हर 5000 लोगों के लिए bank branch होना जरुरी है तब से सभी bank अपनी सेवाओं के लिए बड़ी संख्या में बैंक शाखाएं खोल रहे हैं. हाल ही में SBI (State Bank of India) ने एक ही दिन में 101 शाखाओं का उद्घाटन किया है.
इन सभी बातों से यह कहा जा सकता है की आने वाले 5 वर्षों में भारतीय बैंकिंग क्षेत्र को लगभग 5 लाख vacancies को भरना होगा तो यह एक बहुत बड़ी opportunities है.

IBPS Exam क्या है

वर्तमान समय में IBPS एक वर्ष में ही चार अलग-अलग परीक्षाएं आयोजित कर रहा है और प्रत्येक परीक्षा 3-4 महीने की अवधि के भीतर आयोजित की जाती है. IBPS की चार मुख्य अलग-अलग परीक्षाएं हैं. (1) IBPS PO (Probationary Officer) Exam (2) IBPS Specialist Officers Exam (3) IBPS RRB (Regional Rural Bank) PO and Assistant Exam (4) IBPS Clerk Exam.IPBS

Exam Marks की summary

CWE Clerical: PRE=100 Main=200 Interview=
CWE PO/MT: PRE=100 Main=200 Interview=100
CWE RRBs: PRE=– Main=200 Interview=100

Banking में Career के लाभ

Banking का हिस्सा बनने के कई लाभ (advantage) है इस community के लोग अपने काम को enjoy करते हैं. क्योंकि इसमें आपको अलग-अलग occupation account मिलेगा, हो सकता है आपको lender worker के रूप में अलग-अलग कार्य करने की आवश्यकता पड़ सकती है तो कभी आपको बैंक की धनराशि संभालना पड़ सकता है या शायद आपको एक कुर्सी से भी बंधकर रहना पड़ सकता है. तो आप अपनी ability के और manner और operating के आधार पर अलग occupation को प्राप्त कर सकते हैं.
1) अधिकतर retail bank अपने कर्मचारियों को weekends, evenings, और holidays पर free time enjoy करने की अनुमति देते हैं.
2) ज्यादातर बैंक अपने कर्मचारियों को medical, dental और life insurance benefits के साथ-साथ retirement plan option और personal, sick, vacation leave जैसी facilities देते हैं.
3) सभी बैंक अपने कर्मचारी के लिए बहुत ही कम ब्याज दर पर विभिन्न प्रकार के ऋण की सुविधाएं भी प्रदान करते हैं, यह बाकि सभी सुविधाओं में से सबसे अच्छी है. इसमें आपको कई तरह से मदद मिलती है जैसे: Home loan facilities, education loan, car loan आदि जो आपको tension free होकर काम करने में मदद करती है और क्योंकि आप एक बैंक के employee है तो आपको अधिक formalities की करने की आवश्यकता नहीं पड़ती आपको सभी सुविधाएँ आसानी से मिलती है.

Bank Employee की Salary

एक IBPs clerk की प्रारंभिक salary वेतन भत्ता सहित 18,100 रुपये से 19,800 रुपये per month तक होती है. और एक IBPS PO की प्रारंभिक salary 38000 रुपये से 39000/- रुपये per month होती है.

IBPS में Participating बैंकों की सूचि

1) Allahabad Bank
2) Indian Overseas Bank
3) Andra Bank
4) Oriental Bank of Commerce
5) Bank of Baroda
6) Punjab National Bank
7) Bank of India
8) Punjab & Sindh Bank
9) Bank of Maharastra
10) Syndicate Bank
11) Canara Bank
12) UCO Bank
13) Central Bank of India
14) Union Bank
15) Coperation Bank
16) United Bank of India
17) Dena Bank
18) Vijaya Bank
19) Indian Bank

You'll also like

Comments


This hindi to english dictionary website for sale : shrwanswami@gmail.com